Sunday, December 9, 2012


                    (1)

मेरे गम अगर आपके होते तो आपने होश खो दिए होते !
एक मै हूँ  जो  मुस्कुराता  हूँ, आप  होते तो रो दिए होते !!
                                 (2)

कोई हमें भूल जायें, मर्जी उसकी..... 
हम उसे याद रखे, है ये फ़र्ज़ हमारा !! 
                                 (3)


कोशिशे - जोर क्या करें, किसी और को सुधारने की...................
...................ख़ुद ही सुधरे रहें, यही काफी है ज़माने क़े लिए !!



No comments:

Post a Comment